In this post, we have shared the best WhatsApp Shayari with you. We have written best WhatsApp Shayari with dedication and you will not find these Shayari at anywhere.

You can share these Whatsapp Shayari with your friends and family members.  Everyone uses WhatsApp in there general life. And WhatsApp is the best platform to use for WhatsApp Shayari. 

Whatsapp Shayari

Back in the days, people use to share the Shayari through peace of paper. Write it and send it with someone or they tell the Shayari Vocally.  But nowadays people use a social media platform like Twitter, Instagram, Whatsapp, Facebook, Etc.

Below we have a huge collection of WhatsApp Shayari below enjoy it and share it with your friends and family members.

 “नज़र से नज़र की मुलाक़ात देखी है,
आपकी नज़र में एक खास बात देखी है ||
खुदा जाने क्या है आपकी निगाह में,
वरना अपनी तस्वीर, आपकी नज़रों में साफ देखी है |

 “आप हम पर मत किया करो इतना शक,
आपका मैं हूँ सिर्फ आपका ही है मुझ पर हक।

 “Paas Aakar Sab Door Chale Jaate Hain,
        Akele The Ham, Akele Hi Rah Jaate Hain,
        Is Dil Ka Dard Dikhaen Kise,
        Malham Lagane Wale Hi Jakhm De Jaate Hain.

        पास आकर सब दूर चले जाते हैं,
        अकेले थे हम, अकेले ही रह जाते हैं,
        इस दिल का दर्द दिखाएँ किसे,
        मल्हम लगाने वाले ही जख्म दे जाते हैं

 “वफ़ा का दरिया कभी रुकता नही,
इश्क़ में प्रेमी कभी झुकता नही,
खामोश हैं हम किसी के खुशी के लिए,
ना सोचो के हमारा दिल दुःखता नहीं!

Whatsapp Shayari in Hindi

 “याद होकर भी हम, ना याद हो गये,
दौर बरबादियों के यूं ही गुज़र गये ||
चमकी थी फल्क में, मै बिजली की तरह,
घटाये बरसी और मै यू ही बिखर गयी ||

 “हर दर से ठोकर खाने की बाद,
तेरी याद आयी तुझे खोने के बाद||
ना तू मेरा रहा, और ना मै तेरी,
एहसास-ए-मुहब्बत दुआ,जुदा,होने के बाद||

 “हर दर से ठोकर खाने की बाद,
तेरी याद आयी तुझे खोने के बाद||
ना तू मेरा रहा, और ना मै तेरी,
एहसास-ए-मुहब्बत दुआ,जुदा,होने के बाद||

 “खड़ी होकर छत पर वो,
नजरो से तीर चलाते रहे ||
जितना में उससे दूर हुआ,
वो उतना ही पास आती रही ||

 “शीशा-ए-जाम छलका,
पैमाना टूट कर बिखर गया ||
ए खुदा उनसे नज़र मिली,
मेरा हुस्न खिल कर निखर गया ||

 “जब से मेरे सगाई हुई,
नींद ने पलकों में आना छोड़ दिया ||
तनहा रहता हूँ मैं रातो में ,
तुमने ख्वाबो में आना छोड़ दिया ||

 “चुपके से धड़कन में उतर जायेंगे,
राहें उल्फत में हद से गुजर जायेंगे,
आप जो हमें इतना चाहेंगे,
हम तो आपकी साँसों में पिघल जायेंगे।

 “प्यार करो रुसवाई मिले,
किस्मत की बात निराली है ||
प्यार में जिसको मंजिल मिले ,
उसकी किस्मत बड़ी निराली है ||

 “चमन से उजड़ा फूल तो,
खिजाओ का भाग्य चमका ||
उजड़ा गुलशन देखकर,
बेवफाओ का भाग्य चमका |

 “ लबो पे गीत तो आँखो मे ख्वाब रखते थे, कभी किताबो मे हम भी गुलाब रखते थे, कभी किसी का जो होता था इंतेज़ार हमे, बड़ा ही शाम ओ सहर का हिसाब रखते थे।

 “देखी जो सूरत आपकी ये दिल बेचारा मचल गया,

       रखना हिफ़ाज़त से अपनी अदा को, अदा पे आपकी ये दिल घायल हो गया।

 “मुलाकात तो रोज होती है,
फर्क इतना है जिस्म नहीं मिलते ||
मेरी रूह उनके पास है,
फर्क इतना है वो याद नहीं करते ||

whatsapp shayari

 “में जा बसा पहाड़ पे,
तुम गंगा के तट ||
अब तो मिलन कठिन है,
पेरो में पड़ी जंजीर ||

 “तुम्हे कसम हैं मेरी जान,
मेरे पहलुओं से यू ना सरको ||
सरको तो ऐसे सरको ,
कलम कर दो मेरे सर को ||

 “जख्मी दिल वो किताब है,
जो अश्क़ो से लिखी गयी हैं,||
हर्फ़ बने हैं इसका वो जख्म,
जो बेवफा बेइन्तहा हो गया हैं ||

 “शमा बदली तो,
शमा फजल बदल गयी ||
जिस नजर की थी आरजू,
आज वो नज़र बदल गयी ||

 

 “तहजीब से तहजीब सीखी,
सिर झुकाना आ गया ||
उनसे जो मिली नजर,
हमें मुस्कुराना आ गया ||

 “जानते हो फिर भी अंजान बनते हो, इस तरहा हमें परेशान करते हो, पूछते हो तुम्हे क्या पसंद है, जवाब खुद हो फिर भी सवाल करते हो।

 “मुस्कान बन जाता है कोई, दिल की धड़कन बन जाता है कोई, कैसे जिए एक पल भी उन के बिन, जब ज़िंदगी जीने की वजह बन जाता है कोई।

बस एक छोटी सी हां कर दो, और बस इस तरह मेरे नाम सारा जहाँ कर दो, देते हैं हम ये गुलाब आपको, बस अब ये अपनी मोहब्बत हमारे नाम कर दो।

इश्क करती हूँ तुझसे अपनी जिंदगी से ज्यादा,
मैं डरतीं हूँ मौत से नही तेरी जुदाई से ज्यादा,
चाहे तो हमे आज़मा कर देख किसी और से ज्यादा,
मेरी जिंदगी में कुछ नही तेरी आवाज़ से ज्यादा।

Waqt badla… badle ehsaas bhi…
Jazbat badle….badle khyal bhi…
Armaan badle…badle Sawaal bhi..
Par na badla jo…wo tera yaad aana…

Zindagi Leher Thi Aap Sahil Hue
Na Jane Kese Ham Apke Kabil Hue
Na Bhula Payge Ham Us Hasi Pal Ko
Jab Aap Hamari Zindagi Me Shamil Hue

You can also read Funny Shayari from here.

Topics #whatsapp shayari